Skip to main content

Posts

Showing posts from December, 2012

अपने ठुमके से राजस्थान को लूटेगी ये हसीना

जयपुर. राजस्थानी फिल्मों में भी अब आइटम का तड़का लगने लगा है। वो भी जबरदस्त वाला। निर्माता-निर्देशक विपिन तिवाड़ी की जल्द ही रिलीज होने जा रही राजस्थानी फिल्म पटेलण में भी यह फ्लेवर देखने को मिलेगा। घुमाऊं घाघरो तो सारो राजस्थान घूम्यो है बोल वाले इस गीत पर कोमल पंजाबी ने वो ठुमके लगाए हैं कि देखने वाला भी उसके घाघरे के साथ घूमने लगता है।

तिवाड़ी ने बताया कि यह गाना उन्होंने खुद लिखा है। उन्होंने बताया कि गीत के बोल इस तरह के हैं कि यह देखने वाले को झुमाने के साथ-साथ पूरा राजस्थान भी घुमा देता है। साथ ही इसमें यह भी बताया गया है कि किस जिले की क्या चीज फेमस है। गाने के हिसाब से इसमें एक ऐसी आवाज की जरूरत थी जिसमें ऐसी मस्ती हो कि सुनने वाला उसमें खो जाए। इसके लिए हमने भोजपुरी सिनेमा की मशहूर आइटम सांग सिंगर कल्पना को लिया। कल्पना के बारे में भोजपुरी में कहा जाता है कि फिल्म में उनका आइटम नंबर नहीं तो समझो कुछ नहीं।  गाना जब तैयार हुआ तब हम समझ पाए कि कल्पना के बारे में जो कहा जाता है वो काफी कम है। गाना बन गया तो बारी आई आइटम गर्ल लेने की। इसमें भी कोमल को चुनने का हमारा निर्णय सही सा…