Skip to main content

rajasthan film festival : 26 सितंबर को अवार्ड सेरेमनी, 29 श्रेणियों में दिए जाएंगे अवॉर्ड

वैन्यू बदलेगा, इस बार वैशाली नगर गांधी पथ स्थित जयपुर बाग में होगा, आरएफएफ 2015 के पोस्टर का विमोचन

rajasthan film festival award ceremony ks poster ka vimochan karti director sanjana sharma n unki team.

राजस्थान फिल्म फेस्टिवल (आरएफएफ) अवार्ड सेरेमनी इस बार वैशाली नगर गांधी पथ स्थित जयपुर बाग में आयोजित किया जाएगा। सितंबर महीने की 26 तारीख को होने वाले इस समारोह की डायरेक्टर संजना शर्मा ने सोमवार को इसके पोस्टर का विमोचन किया। इस बार सेरेमनी में कुल 29 श्रेणियों में अवार्ड प्रदान किए जाएंगे।  


संजना शर्मा ने बताया कि राजस्थानी सिनेमा को नई दिशा प्रदान करने के उद्देश्य से दो वर्ष पूर्व उन्होंने यह पहल की थी। राज्य के फिल्मकारों, कलाकारों को एक मंच पर लाने का यह उनका प्रयास है।

लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार मोहन कटारिया को

फेस्टिवल के प्रोग्रामिंग हैड अनिल जैन ने बताया कि राजस्थानी फिल्म जगत में उल्लेखनीय योगदान के लिए इस बार का लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड निर्माता, निर्देशक एवं अभिनेता मोहन कटारिया को प्रदान किया जाएगा।

25 सितंबर को होगी राजस्थानी सिनेमा पर चर्चा

समारोह से एक दिन पहले 25 सितंबर को राजस्थानी सिनेमा की वर्तमान स्थिति पर एक परिचर्चा का आयोजन किया जाएगा। इस परिचर्चा में क्षेत्रीय सिनेमा से जुड़े निर्माता-निर्देशक, वितरक, मीडियाकर्मी और राज्य के संस्कृति विभाग के अधिकारी राजस्थानी सिनेमा की वर्तमान स्थिति पर चर्चा करेंगे।

Comments

Popular Posts

राजस्थानी फिल्म शंखनाद का पोस्टर लांच

जयपुर। श्रवण सागर की अपकमिंग राजस्थानी फिल्म शंखनाद का पोस्टर मालवीय नगर स्थित होटल ग्रांड हरसल में किया गया। महाराणा प्रताप के सैनानी गाडिया लुहारों की वर्तमान हालत और पिछड़ेपन पर बनी इस फिल्म का निर्देशन संतोष क्रांति मिश्रा ने किया है।

फिल्म के प्रोड्यूसर मनोज यादव व प्रजेंटर अनिल यादव ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि लोगों को यह फिल्म जरूर पसंद आएगी। फिल्म में मुख्य भूमिका निभा रहे अभिनेता श्रवण सागर ने कहा कि यह फिल्म उनके दिन के बहुत करीब है। इसमें मेरा किरदार मेरे अब तक निभाए किरदारों से एकदम अलग है। इसके लिए मुझे गाड़िया लुहारों के रहन-सहन, उनके उठने-बैठन और बात करने का तरीका सीखने के लिए काफी तैयारी करनी पड़ी। मैं उन लोगों से मिला भी। उनके बीच रहा भी। इस दौरान मैंने देखा कि कितनी विपरीत परिस्थितियों में वे जीवन जी रहे हैं। थोड़ी परेशानी तो हुई, लेकिन इस दौरान का अनुभव शंखनाद में निभाई गई भूमिका में रम जाने में बहुत मददगार रहा। इस मौके पर बिजनेसमैन अरुण गोयल, विकास पोद्दार और अशोक प्रजापति भी मौजूद रहे।

फिल्म में श्रवण सागर ,संजना सेन, सजल गोयल ,अथर्व श्रीवास्तव ,रॉकी संतोष, गोविंद …

अब तक रिलीज राजस्थानी फिल्में

1942
1 नजराना
1961
2 बाबासा री लाडली
1963

राजस्थानी फिल्म ट्रिपल बी 21 को होगी रिलीज

Recent in Sports