Header Ads

अच्छी फिल्म बनेगी तो लोग जरूर देखने आएंगे

राजस्थानी फिल्म टांको भिड़ग्यो के निर्देशक निशांत भारद्वाज और नीर ढिल्लों प्रमोशन के लिए जयपुर आए

जयपुर। गर्त की ओर जा रही राजस्थानी सिनेमा इंडस्ट्री को एक हिट फिल्म की जरूरत है। जिस दिन यह हो जाएगा उसी दिन से इस इंडस्ट्री के अच्छे दिन शुरू हो जाएंगे। अगर कोई अच्छी फिल्म बनेगी तो लोग जरूर देखने आएंगे और राजस्थानी फिल्म लगने पर सूने पड़े रहने वाले सिनेमाघरों पर मेले लगेंगे।
यह कहना है निर्देशक निशांत भारद्वाज और नीर ढिल्लों का। वे इन दिनों अपनी आने वाली राजस्थानी फिल्म टांको भिड़ग्यो के प्रमोशन के लिए जयपुर में हंै।
    उन्होंने बताया कि उनकी फिल्म में नई जेनेरेशन को टार्गेट किया गया है। आज गांवों में भी यूथ के हाथ में एंड्रोएड फोन मिल जाएगा। किसान का बेटा भी जींस पहने मिलेगा चाहे वह खेती ही करता हो। हमारी फिल्म में यही बदलता यूथ है। यह एक कॉमेडी फिल्म है जो लोगों का मनोरंजन करने के साथ ही एक मैसेज भी देगी। इसमें हमने यह बताने कि कोशिश कि बिना सोचे समझे कोई निर्णय लेने से हुई गलतफहमी जीवन में कितनी उथल-पुथल मचा देती है।

ढिल्लन क्रियशन की इस फिल्म के निर्माता जसबीर ढिल्लों हैं। संगीत इकबाल दरबार ने दिया है तथा शादाब अल्तमस और अमन त्रिखा जैसे गायकों ने गानों को स्वर दिए हैं। उपासना सिंह, युसुफ खुर्रम, सचिन चौबे, शांतनु सुरोलिया, हरकमल प्रीत, सुमनदीप, देवेंद्र भगत और प्रमोद पकौड़ी मुख्य भूमिकाओं में नजर आएंगे।

    75 सिनेमाघरों में प्रदर्शन की योजना

    फिल्म वितरक शत्रुघ्न पारीक ने बताया कि इसे बड़ स्तर पर रिलीज किया जाएगा। हमारी इसे राजस्थान के करीब 75 सिनेमाघरों में एक साथ प्रदर्शन की योजना है। सब कुछ योजनानुसार हुआ तो हम यह आंकड़ा भी पार कर सकते हैं।

No comments