Skip to main content

बारिश में भीगते देखी पटेलण



आसमान से बरसती बूंदे भी पटेलण के प्रीमियर को नही रोक सकी। जनजाति क्षेत्र के अंदरूनी गांव ओगणा में फिल्म का प्रीमियर न केवल ग्रामीणों के लिए बल्कि उसमें काम करने वाले कलाकारों के लिए भी यादगार बन गया। अरावली की सुरम्य उपत्यकाओं के बीच बसे इस गांव में इस फिल्म के दौरान बिजली भले ही गुल थी, लेकिन प्रदेश के श्रम राज्य मंत्री मांगीलाल गरासिया, क्षेत्र के सांसद रघुवीर सिंह मीणा, यूनिसेफ के राज्य प्रमुख सेम्यूल मेंगोनीज और फिल्म के मुख्य कलाकारों की मौजूदगी ने सारी कमी पूरी कर दी।


ग्रामीणो का उत्साह ही था की शाम चार बजे से ही फिल्म के प्रीमियर को देखने को लिए भीड़ जुडऩे लगी न केवल ओगणा बल्कि आस-पास के गांवों नेवज, बिरोठी, आंजरोली, पानरवा, वास, मोखी, मोहम्मद फलासिया, मेवाडो मामठ तक से ग्रामीण खिचे चले आए। बारिश का दौरा करीब तीन बजे शुरू हो गया, लेकिन फिल्म कलाकारों को देखने के मोह ने सभी को रात तक बांधे रखा। आखिर कई लोग सालों बाद कई पहली बार सिनेमा देखने की उम्मीद थे। यही कारण रहा कि किसी ने सिर पर बैनर ढंककर, तो किसी ने छाता तानकर और कई ने बारिश में भीगते-भीगते फिल्म देखी और जमकर हूटिंग भी की।

Comments

Popular Posts

अब तक रिलीज राजस्थानी फिल्में

1942
1 नजराना
1961
2 बाबासा री लाडली
1963

म्हारी सुपातर बीनणी का तीसरे सप्ताह में प्रवेश

सीकर के सम्राट सिनेमा में सफलतापूर्वक दो सप्ताह पूरे फनी पिपुल एंटरटेन्मेंट प्राइवेट लिमिटेड बैनर तले बनी राजस्थानी फिल्म म्हारी सुपातर बींदणी सीकर के सम्राट सिनेमा में सफलतापूर्वक दो सप्ताह पूरे करने के बाद तीसरे में प्रवेश कर गई है। राजस्थानी सिनेमा के चाहने वालों के लिए यह बड़ी खुशखबरी है,

राजस्थानी फिल्म शंखनाद का पोस्टर लांच

जयपुर। श्रवण सागर की अपकमिंग राजस्थानी फिल्म शंखनाद का पोस्टर मालवीय नगर स्थित होटल ग्रांड हरसल में किया गया। महाराणा प्रताप के सैनानी गाडिया लुहारों की वर्तमान हालत और पिछड़ेपन पर बनी इस फिल्म का निर्देशन संतोष क्रांति मिश्रा ने किया है।

फिल्म के प्रोड्यूसर मनोज यादव व प्रजेंटर अनिल यादव ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि लोगों को यह फिल्म जरूर पसंद आएगी। फिल्म में मुख्य भूमिका निभा रहे अभिनेता श्रवण सागर ने कहा कि यह फिल्म उनके दिन के बहुत करीब है। इसमें मेरा किरदार मेरे अब तक निभाए किरदारों से एकदम अलग है। इसके लिए मुझे गाड़िया लुहारों के रहन-सहन, उनके उठने-बैठन और बात करने का तरीका सीखने के लिए काफी तैयारी करनी पड़ी। मैं उन लोगों से मिला भी। उनके बीच रहा भी। इस दौरान मैंने देखा कि कितनी विपरीत परिस्थितियों में वे जीवन जी रहे हैं। थोड़ी परेशानी तो हुई, लेकिन इस दौरान का अनुभव शंखनाद में निभाई गई भूमिका में रम जाने में बहुत मददगार रहा। इस मौके पर बिजनेसमैन अरुण गोयल, विकास पोद्दार और अशोक प्रजापति भी मौजूद रहे।

फिल्म में श्रवण सागर ,संजना सेन, सजल गोयल ,अथर्व श्रीवास्तव ,रॉकी संतोष, गोविंद …

Recent in Sports