Skip to main content

मेट्रो में नाचे अमिताभ और परी

जयपुर मेट्रो में शूटिंग, पहली फिल्म ‘लाडली’


जयपुर. राजस्थानी फिल्में भी अब जमाने के साथ कदम-कदम से कदम मिलाने लगी हैं। अब तक गांव-हवेली और खेत खलिहानों के इर्द-गिर्द घूमने वाली कहानियां शहर की ओर बढ़ चली है। मॉल्स से होती हुई अब मेट्रो में सवार हो गई है। राजस्थनी फिल्मों के हीरो-हीरोइन भी मेट्रो में नाचते-गाते नजर आएंगे। शुक्रवार को जयपुर मेट्रो में पहली बार किसी फीचर फिल्म की शूटिंग हुई। यह सौभाग्य मिला राजस्थानी फिल्म लाडली को।


तीतरी प्रोडक्शन के बैनर तले बन रही इस फिल्म में अभिनेता अमिताभ तिवारी मुख्य भूमिका निभा रहे हैं। उनके अपोजिट हैं अभिनेत्री परी। मेट्रो में इस लीड जोड़ी पर गाना फिल्माया गया है। साथ ही कुछ हंसी-मजाक और छेड़छाड़ के सीन भी शूट हुए। फिल्म में दीपक मीणा उर्फ पन्या सेपट एक अलग रूप में हैं। हंसा-हंसा कर लोटपोट कर देने वाला तो उनका रूप इस फिल्म में दिखेगा ही, साथ में उनका रुला देने वाला भवुक अभिनय भी देखने को मिलेगा। अभिनेत्री संगीता चौधरी उनकी समधन बनी हैं, जो एक दबंग महिला होने के साथ ही एक ममता से भरी मां भी है। मामा मनसुख के रूप में नजर आएंगे शिवराज गूजर। एक ऐसे मामा, जो अपने भांजे की लव स्टोरी को मंजिल तक पहुंचाने के लिए उसके लव गुरु बन जाते हैं। निगेटिव भूमिकाओं में अपनी छाप छोड़ने वाले मोहन सैनी इस बार शराफत दिखाएंगे। एक ऐसे बड़े भाई के रूप में, जो अपने छोटे के लिए कुछ भी करने को तैयार है।

निर्माता विपिन तिवारी ने बताया कि फिल्म में लड़कियों की कमी, अंधविश्वास व कुरीतियों पर प्रहार किया गया है। साथ ही बॉर्डर पार की लड़कियों से रिश्ता कराने वाली पारो की दिलचस्प कहानी भी इसमें गुंथी है। फिल्म का निर्देशन भोजपुरी फिल्मों के जान-माने निर्देशक अशोक चतुर्वेदी कर रहे हैं। सिनेमेटोग्राफर अभय आनन्द हैं। मेकअप सज्जा संजय सैनी व टिंकू का है। प्रोडक्शन मनीष शर्मा, एडिट शैलेन्द्र सिंह, सहायक निर्देशन अर्चना चतुर्वेदी, कथा-संवाद विपिन तिवारी के हैं। गीतों को स्वर उदित नारायण, रवीन्द्र उपाध्याय, स्वाति शर्मा, रुचिका खण्डेलवाल, दिलबर हुसैन और धनराज साहू ने दिया है। संगीत निजाम खान का है।

Comments

Popular Posts

राजस्थानी फिल्म शंखनाद का पोस्टर लांच

जयपुर। श्रवण सागर की अपकमिंग राजस्थानी फिल्म शंखनाद का पोस्टर मालवीय नगर स्थित होटल ग्रांड हरसल में किया गया। महाराणा प्रताप के सैनानी गाडिया लुहारों की वर्तमान हालत और पिछड़ेपन पर बनी इस फिल्म का निर्देशन संतोष क्रांति मिश्रा ने किया है।

फिल्म के प्रोड्यूसर मनोज यादव व प्रजेंटर अनिल यादव ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि लोगों को यह फिल्म जरूर पसंद आएगी। फिल्म में मुख्य भूमिका निभा रहे अभिनेता श्रवण सागर ने कहा कि यह फिल्म उनके दिन के बहुत करीब है। इसमें मेरा किरदार मेरे अब तक निभाए किरदारों से एकदम अलग है। इसके लिए मुझे गाड़िया लुहारों के रहन-सहन, उनके उठने-बैठन और बात करने का तरीका सीखने के लिए काफी तैयारी करनी पड़ी। मैं उन लोगों से मिला भी। उनके बीच रहा भी। इस दौरान मैंने देखा कि कितनी विपरीत परिस्थितियों में वे जीवन जी रहे हैं। थोड़ी परेशानी तो हुई, लेकिन इस दौरान का अनुभव शंखनाद में निभाई गई भूमिका में रम जाने में बहुत मददगार रहा। इस मौके पर बिजनेसमैन अरुण गोयल, विकास पोद्दार और अशोक प्रजापति भी मौजूद रहे।

फिल्म में श्रवण सागर ,संजना सेन, सजल गोयल ,अथर्व श्रीवास्तव ,रॉकी संतोष, गोविंद …

अब तक रिलीज राजस्थानी फिल्में

1942
1 नजराना
1961
2 बाबासा री लाडली
1963

राजस्थानी फिल्म ट्रिपल बी 21 को होगी रिलीज

Recent in Sports